March 22, 2019
Breaking News

Sign in

Sign up

  • Home
  • News
  • Photo
  • उदयपुर में बजरी ले जाते 14 गिरिफ्तार।

उदयपुर में बजरी ले जाते 14 गिरिफ्तार।

By on October 25, 2018 0 123 Views

सुप्रीम कोर्ट की रोक राजस्थान में बेअसर।

भले ही सुप्रिम कोर्ट ने बजरी खनन पर रोक लगा रखी हो लेकिन बजरी खनन का कारोबार आज भी जारी है। लेकिन उदयपुर पुलिस का पिछले कुछ दिनों में बजरी माफियाओं के खिलाफ रवैया तोड़ा सख्त रहा है। प्रताप नगर पुलिस अवैध बजरी का परिवहन करने वालो के विरूद्ध बडी कार्यवाही करने में सफल रही है। साथ ही मौके पर शान्ति भंग करने के आरोप मे 14 ट्रक चालको को गिरफ्तार किया है तथा अवैध बजरी से भरे 5 वाहन जब्त किये है। जिला पुलिस उदयपुर अधीक्षक कुंवर राष्ट्रदीप ने अवैध बजरी खनन माफियाओं के विरोध अभियान चलाकर लगातार कार्यवाही करने के आदेश की पालना में यह कार्यवाही की है जो कि ऊंट के मुंह मे जीरे के समान है क्योंकि उदयपुर सहित पूरे राजस्थान में अवैध बजरी खनन का खेल पुलिस की मिलीभगत से परवान पर है जब कि पिछले साल नवम्बर से ही राजस्थान में बजरी खनन पर सुप्रीम कोर्ट की रोक जारी है। अति. पुलिस अधीक्षक पारस जैन तथा वृत्त अधिकारी वृत नगर पूर्व भगवत सिंह हिंगड़ के निर्देशन मे कार्यवाही करते हुए 24.10.18 की रात्रि को थानाधिकारी हनवन्त सिह राजपुरोहित की रात्रि गश्त के दौरान मुखबीर की सूचना पर सवीना चैराहे की तरफ एक डम्पर मे बजरी भरी हुई मिली तथा उक्त डंपर को एक जीप एस्कॉर्ट कर रही थी, जिस पर सवीना पहुंच उक्त डंपर व एस्कॉर्ट करते व्यक्तियों को थाना सवीना को सुपुर्द किया, एक अन्य सूचना में कुराबड की तरफ से कुछ ट्रक व वाहनों में अवैध बजरी मिलने पर उक्त वाहनो के आगे वाहन मालिक एस्कॉर्ट करते मिले जिस पर सहायक उप निरीक्षक भगवान सिंह, चालक कान सिंह, हैडकांस्टेबल लच्छीराम, कांस्टेबल, कमलकुमार, हरिकिशन ने कुराबड तरफ से (1) ट्रक नंबर आरजे 27 जीबी 9193का चालक नारायण लाल पुत्र बाबू मीणा निवासी बेमला, (2) ट्रक नंबर आरजे 24 जीबी 0632 चालक शिवलाल पुत्र मेघा निवासी कोट, थाना कुराबड, (3) ट्रक आरजे 04 जी.ए 827 का चालक गोवर्धन सिंह पुत्र केसर सिंह राजपूत निवासी वानु, (4). ट्रैक्टर ट्रॉली आरजे 27आर.ए. 7650 चालक पेमाराम पुत्र दौला मीणा निवासी कोट, (5) टेक्टर नंबर आरजे 27 आर.बी. 1917 का चालक विक्रम सिंह पुत्र गणेश सिंह निवासी कोट, उक्त रेती से भरे होकर चालको द्वारा बताया की उक्त बजरी खरका नदी से भरकर उदयपुर शहर की तरफ ले जाना बताया, वाहन पुलिस व माइनिंग विभाग की पकड़ में नहीं आ पाए, उसके लिए उनके मालिक (1).खेमराज पुत्र देवा डांगी निवासी वाजनी वाजनी, (2).भेरूलाल पुत्र लालाजी निवासी फिला, (3). विजय सिंह पुत्र फतेह सिंह निवासी वानु, (4).पूंजा राम पुत्र श्री मना डांगी निवासी कोट,उनके साथी (5)डूंगर राम पुत्र वरदा निवासी कोट (6).संतोष पुत्र रूपा मीणा निवासी बेमला, (7)शंकरलाल पुत्र वक्ता निवासी बेमला ( 8.)इमरान खान पुत्र ईशा खान निवासी कुराबड, (9). गणेश लाल पुत्र हीरालाल निवासी कुराबड, जो अवैध रूप से बजरी सप्लाई में ट्रकों व डंपरो, की एस्कोटिग (1).ब्रिजा कार नंबर आरजे 27 सीजी 7338, (2) इको कार आरजे 27 सीसी 6081 (3).थार जीप नम्बर आर जे 27 यु.ए 6415, (4.)मोटरसाइकिल अपाची नंबर आरजे 27 एसजे 7766, (5)हीरो शाइन नंबर आरजे 27 बीएम 5395 (6).हीरो साइन आरजे 27 बी.एम.5395,करते पाए गए, उक्त गाड़ियों ट्रैक्टरो को साइड में खड़े करवाते वक्त वाहनों के आगे उनके मालिक एस्कॉर्ट कर रहे थे पर पुलिस की पकड़ में आते ही सभी युवक मौके पर हो हल्ला कर एक दूसरे पर मुखबिरी करने का आरोप लगाने लगे व जाब्ता पुलिस से उलझने लगे ,जिन्हे मौके पर शांति भंग करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया, तथा एस्कॉर्ट करते वाहनो के कोई कागजात नहीं होने से धारा 207 एमवी एक्ट में जब्त किये,इसके अलावा एक (7)बोलेरो वाहन आरजे 27 यूए 3522 को एक युवक मौके पर छोड़ कर भाग गया जिसे भी डिटेन किया गया, उक्त वाहनों में चोरी कर नदियों से खनन कर अवैध रूप से लाई गई, बजरी होने से माईनिग विभाग को सुचित किया, जिस पर माइनिंग विभाग के अधिकारी जितेंद्र सिंह तंवर व श्री एस.पी शर्मा जो आज थाने पर उपस्थित आएं तथा सभी वाहनों के विरुद्ध धारा 379 आईपीसी 4,21 एमएमडीआर एक्ट के तहत प्रकरण दर्ज कराया, उक्त प्रकरण दर्ज कर अनुसंधान जारी है। सभी चालको व वाहन मालिक जो मौके पर शान्ति भग कर रहे थे जिन्हे आज एडीएम साहब शहर उदयपुर के समक्ष पेश किया, तथा उक्त वाहन चालकों व वाहन मालिकों को प्रकरण में पृथक से गिरफ्तार किया जाएगा।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!