January 18, 2019
Breaking News

Sign in

Sign up

  • Home
  • Tonk Special
  • एसीबी ने पाँच हजार रूपये की रिश्वत लेते एएसआई को धर दबोचा

एसीबी ने पाँच हजार रूपये की रिश्वत लेते एएसआई को धर दबोचा

By on November 29, 2018 0 140 Views

अलीगढ़ थाने का एएसआई 5000 रूपये की रिश्वत लेते रंगे हाथो गिरफ्तार

अलीगढ़, । स्थानीय पुलिस थाना अलीगढ़ में कार्यरत एएसआई कलीम खान को पाँच हजार रूपये की रिश्वत लेते एसीबी टोंक की टीम ने कार्यवाही करते हुये बुधवार को रंगे हाथों धर दबोचा। पुलिस थाने  में एसीबी की कार्यवाही से पुलिस कर्मियों में अचानक हड़कंप मच गया।
भष्ट्राचार निरोधक ब्यूरो टोंक के एएसपी विजय सिंह ने बताया कि मामले में अलीगढ़ थाना क्षेत्र के पीड़ित देवली निवासी रतनलाल पुत्र टीकाराम मीणा के गत 23 नवंबर को जमीनी विवाद के चलते मारपीट होने के बाद मामले की जांच कर रहे एएसआई कलीम खान द्वारा कार्यवाही नहीं करते हुए दूसरे पक्ष के पक्ष में होने पर पीडित रतनलाल द्वारा कार्यवाही की मांग करने पर एएसआई कलीम खान द्वारा पीडित से 10 हजार रूपए रिश्वत राशि मांग गई। इस पर पीड़ित रतनलाल मीणा द्वारा मामले की शिकायत भष्ट्राचार निरोधक ब्यूरो टोंक से शिकायत की गई। मामले में बुधवार को एसीबी टीम टोंक के एएसपी विजय सिंह के नेतृत्व में टीम ने जाल बिछाकर पीड़ित से एएसआई कलीम खान द्वारा 5 हजार रूपए लेते हुए टीम ने रंगे हाथों पकड़ लिया। पुलिस थाना अलीगढ़ में बुधवार को कार्यरत एएसआई कलीम खान को पाँच हजार रूपये की रिश्वत लेने की कार्यवाही के दौरान एसीबी टीम में एएसआई वीरेन्द्र सिंह , हैड कांस्टेबल हनुमान व कांस्टेबल जुनेद , जावेद , भरतलाल , मनोज आदि मौजूद रहे।
रिश्वत के मामले की एसीबी की दूसरी कार्यवाही :- पुलिस थाना अलीगढ़ में भ्रष्टाचार चरम पर होने के चलते ऐसे में पुलिस थाने में पुलिस द्वारा रिश्वत लेने के मामले सामने आ रहे हैं। पुलिस थाने में रिश्वत के मामले में एसीबी की दूसरी कार्यवाही है। कुछ वर्षों पहले पुलिस थाने में तत्कालीन थानाधिकारी रमेश मीना को भी रिश्वत लेने के मामले में एसीबी टीम जयपुर ने रंगे हाथों गिरफ्तार किया गया था। इसके बाद दूसरी कार्यवाही में पुलिस थाने में कार्यरत एएसआई कलीम खान को पाँच हजार रूपये की रिश्वत लेते एसीबी टीम टोंक की टीम ने बुधवार को रंगे हाथों धर दबोचा।
Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!