January 19, 2019
Breaking News

Sign in

Sign up

  • Home
  • News
  • Photo
  • अवैध बजरी से भरे आधा दर्जन ट्रेलर जब्त…

अवैध बजरी से भरे आधा दर्जन ट्रेलर जब्त…

By on September 3, 2018 0 297 Views

सदर थाना पुलिस ने की कार्यवाही…

अंधेरे का फायदा उठाकर चालक फरार….

टोंक। टोंक की जीवनदायनी बनास नदी में आज अवैध रूप से खनन बदस्तूर जारी हैं, इसको जीता जागता नमूना सईदाबाद नदी में क्षेत्र में देखने को मिला जहां पुलिस ने बजरी भरते हुए एक साथ आधा दर्जन ट्रेलर जब्त किए हैं, पुलिस के अनुसार सूचना के बाद पहुंचने पर 22 चक्का छह ट्रेलरों में बजरी भरी जा रही थी, पुलिस को आता देख उनके चालक तो फरार हो गए हैं जिसके बाद पुलिस ने सभी ट्रेलर को जब्त कर लिया। बनास की बजरी की लूट क्षेत्र में आज भी जारी हैं, चंद भ्रश्टाचारी अफसरों व संबंधित विभाग की मिलीभगत से चल रहे गौरखधंधे पर समय-समय पर होती कार्यवाही यह बताने के लिऐ काफी हैं खनन रूका नही हैं,
सदर थानाक्षेत्र में पुलिस को मिली सूचना के बाद हुई पुलिस ने सईदाबाद नदी क्षेत्र से रात में की गई कार्यवाही में एक-दो नही बल्कि छह यानि आधा दर्जन बाइस चक्का ट्रेलर जब्त किए हैं, हालांकि अंधेरे का फायदा उठाकर चालक फरार हो गए लेकिन पुलिस ने सभी छह  ट्रेलर पुलिस जाप्ता मंगवाकर जब्त कर सदर थाने लाकर खड़ा कर दिया हैं, हेंड कांस्टेबल गिर्राज प्रसाद ने बताया कि ट्रेलर जब्त कर मुकदमें की कार्यवाही की जा रही हैं। टोंक जिले की अवैध बजरी खनन रोकने को लेकर षासन और प्रषासन लाख दावे करे लेकिन समय-समय पर हो रही कार्यवाहियों में खनन करते लोग बजरी परिवहन करते ट्रेक्टर-ट्रॉलियों, ट्रक, डंपर सहित 22 चक्का ट्रेलर भी बजरी का परिवहन करते मिल जाते हैं,
जबकि अंधाधुंध खनन से बदहाल हो चुकी नदी को बचाने के लिए देष की सर्वोच्च न्यायपाकिा ने पिछले साल 16 नवंबर को जिले की बनास नदी में बजरी खनन पर पूर्णतया रोक लगा दी थी, हालांकि उसके बाद जहां लीज़ होल्डर ने अपनी मशीनों और ट्रक बनास नदी में हटा लिए थे, लेकिन कुछ समय बाद ही नदी में स्थानीय खनन माफिया काबिज हो गए और उन्होने पुलिस, परिवहन और खनिज विभाग के चंद भ्रश्ट कर्मचारियों की वजह से अवैध खनन षुरू कर दिया। यही कारण है कारण हैं कार्यवाही के बाद पकड़े गए वाहनों को छुडाने के लिऐ रसूकदार लोगो के फोन तक कार्यवाही करने वाले अधिकारियों व पुलिसकर्मियों पर दबाव बनाते नजर आते हैं।
Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!