March 26, 2019
Breaking News

Sign in

Sign up

  • Home
  • News
  • Photo
  • भिलाई स्टील प्लांट : गैस पाइपलाइन फटने से धमाका, 12 की मौत

भिलाई स्टील प्लांट : गैस पाइपलाइन फटने से धमाका, 12 की मौत

By on October 10, 2018 0 133 Views

पुलिस ने बताया कि कोक ओवन बैटरी नंबर 11 की गैस पाइपलाइन में धमाका हुआ।

ब्लास्ट के बाद कई कर्मचारी हुए लापता, 14 कर्मचारी गंभीर रूप से घायल

भिलाई स्टील प्लांट (बीएसपी) के इतिहास में अब तक के सबसे बड़े हादसे में एक अधिकारी समेत 12 लोगों की मौत हो गई, जबकि एक अधिकारी सहित 14 कर्मचारी गंभीर रूप से घायल हो गये। हादसा उस वक्त हुआ जब क्षतिग्रस्त गैस पाइप लाइन का मेंटेनेंस किया जा रहा था। इसमें कंपनी की सुरक्षा कर्मचारीयों की बड़ी लापरवाही सामने आ रही है। हादसे का कारण जानने की कोशिश की गई तो पता चला कि गैस पाइपलाइन का प्रेशर जीरो होने से पहले ही मेंटेनेंस का काम शुरू कर दिया गया। जिससे अचानक गैस पाइप लाइन में पे्रशर बड़ा और जोरदार ब्लास्ट हुआ। धमाका इतना तेज था कि आसपास मौजूद कर्मचारी भी इसकी चपेट में आ गए। हादसे में कुछ और लोगों के मारे जाने की बात सामने आ रही है, लेकिन बीएसपी के अधिकारी इसकी पुष्टि नहीं कर रहे हैं।

स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया ने कहा कि प्लांट के कोक ओवन बैटरी कॉम्प्लेक्स नंबर 11 में धमाका हुआ था। इस मामले में केंद्रीय इस्पात मंत्री चैधरी बीरेंद्र सिंह ने भी रिपोर्ट मांगी है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जून में ही यहां के विस्तारित संयंत्र का लोकार्पण किया था। पुलिस के मुताबिक, पाइपलाइन से गैस तेजी से रिसने लगी तथा पास ही हो रही वेल्डिंग के दौरान निकली चिंगारी से धमाका हो गया। प्लांट में धुआं भर जाने की वजह से लापता कर्मचारियों को ढूंढने में मुश्किलें आईं। हादसे के वक्त प्लांट में 25 लोग मौजूद थे।

रेलवे को सप्लाय करने वाला देश का इकलौता प्लांट-

स्टील अथॉरिटी की वेबसाइट के मुताबिक, भिलाई का स्टील प्लांट ही भारतीय रेलवे को वर्ल्ड क्लास रेल मुहैया कराने वाला इकलौता सप्लायर है। यहां स्टील की सालाना उत्पादन क्षमता 3.15 मिलियन टन है। हादसे की जांच के लिए सेल ने 4 सदस्यों की कमेटी का गठन किया है। कमेटी 7 दिनों में रिपोर्ट चेयरमैन को सौंपेगी। कमेटी में बोकारो स्टील प्लांट के ईडी प्रोजेक्ट आरसी श्रीवास्तव, दुर्गापुर स्टील प्लांट के जीएम पर्यावरण व उपयोगिता बीपी मुखर्जी, जीएम ईएमडी कोलकाता एसके दास और राउरकेला स्टील प्लांट के डीजीएम ईएमडी मैनेजमेंट पीके बैसाखिया को सदस्य बनाया गया है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!