April 25, 2019
Breaking News

Sign in

Sign up

  • Home
  • News
  • Photo
  • सीएम के स्वागत में करोड़ों की सड़के….

सीएम के स्वागत में करोड़ों की सड़के….

By on September 21, 2018 0 412 Views

टोंक शहर की सड़कों की बदहाली किसी से छूपी नही हैं….

सभापति लक्ष्मी जैन ले रही है सडक निर्माण का जायजा…

टोंक। राजस्थान गौरवयात्रा में मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के टोंक दौरे को लेकर पार्टी पदाधिकारियों से लेकर शासन और प्रशासन के नुमाइंदे लगे हुए हैं। वही बदहाल हो चुकी टोंक शहर की सड़कों की दशा सुधारने के लिऐ नगर परिषद सभापति लक्ष्मी जैन ने करोडों के टेंडर के तहत सड़कों को निर्माण करवाना शुरू कर दिया हैं। हालांकि सभापति इस विकास कार्याे को गौरवयात्रा से जोडने की जगह पहले से तय काम बता रही हैं। टोंक शहर मे इन दिनों तेजी से सड़कों का निर्माण किया जा रहा हैं। दअरसल हाल में वसंुधरा सरकार के मंत्री गजेंद्रसिंह खिंवसर ने टोंक आकर मुख्यमंत्री की टोंक में प्रस्तावित गौरवयात्रा की तैयारियां जायजा लेकर अधिकारियों एवं जनप्रनिधियों से फीडबैक लेकर 29 और 30 सिंतबर को मुख्यमंत्री के टोंक दौरे की जानकारी दी थी।
जिसपर लेकर शासन पदाधिकारियों और प्रशासनिक अधिकारी दौरे को सफल बनाने में लगे हैं, वही पिछले कई सालों से बदहाल हो चुकी सड़कों के पुर्रनिर्माण का काम भी दोबारा गति पकड़ने लगा हैं, खूद नगर परिषद सभापति लक्ष्मी जैन जगह-जगह जाकर सड़क निर्माण का जायजा लेकर सड़क बना रहे रहे ठेकेदारों गुणवत्ता का ध्यान रखने के निर्देश दे रही हैं, साथ ही नगर परिषद के अधिकारियों को समय-समय पर सड़क निर्माण की मॉनिटरिंग कर जल्द से जल्द निर्माण कार्य पूर्ण करने के निर्देष दिए गए हैं। हम आपकों बता दे नगर परिषद की ओर से छावनी सर्किल से बंमोर गेट, पटेल सर्किल से सिविल लाइन, बरखडा बाबा से डीपों तक लगभग डेढ करोड की लागत से सड़के तैयारी की जा रही हैं। हालांकि सभापति इन विकास कार्याे को पहले से तय काम बता रही हैं, पर यह भी उन्होने माना कि मुख्यमंत्री आ रही है इसलिए से जल्द से जल्द काम पूरा हो जाएगा सही रहेगी। टोंक शहर की सड़कों की बदहाली किसी से छूपी नही हैं, इससे पहले तक सड़कों पर डामर कम गढ्ढे ज्यादा दिखाई दे रहे थे, उसके ऊपर आरयूआईडीपी की ओर से सीवरेज और पेयजल लाइन के लिए खोदी सड़कों से हालात ओर बुरे हो गए,
वही इस बार मानसून के की बरसात से सड़कों के हालात बद से बदतर हो गया हैं, यही कारण है कि आए-दिन लोग इसको लेकर नगर परिशद की कार्यशैली पर सवाल उठाते नजर आए। हालांकि अब सड़को का निर्माण होने से स्थानीय लोग खुश हैं कि उन्हे धूलभरी और गढ्ढों युक्त सड़कों निजात मिल पाएगी बहरहाल मुख्यमंत्री के दौरे को लेकर ही सही टोंक शहरवासियों को सड़के पर गढ्ढों और धुलभरी स्थिती से दो-चार नही होना पडेगा। सड़के बनने से भले ही लोग खुश है लेकिन साथ ही सवाल भी उठ खड़ा हो गए हैं टोंक के जनप्रतिनिधियों को आमजन की सहूलियत से ज्यादा अपने आकाओं को खुष रखने में दिलचस्पी हैं। शायद यही कारण है मुख्यमंत्री के दौरे से ठीक पहले से सड़कों का पुर्ननिर्माण से लेकर सौंदर्यकरण पर करोड़ों खर्च किए जा रहे हैं
Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!