January 18, 2019
Breaking News

Sign in

Sign up

  • Home
  • News
  • Photo
  • चार बच्चो की तालाब में डूबने से मौत।

चार बच्चो की तालाब में डूबने से मौत।

By on August 4, 2018 0 138 Views

 पिकनिक मनाने जयपुर से आये थे सवाई माधोपुर

परिवार की खुशिया हुई काफूर।

:– जयपुर से रणथंभोर पिकनिक मनाने आए एक चार बच्चो की दुर्ग पर मौजूद पदम तालाब में डूबने से मौत हो गयी चारो बालक अपने परिवार के साथ जयपुर से सवाई माधोपुर पिकनिक पर आए थे और रंथम्बोर किले पर घूमने पहुचे थे पर नहाने के दौरान पानी की गहराई में चले गए और एक दूसरे को बचाने के चक्कर जान गवा बैठे जिनके शव पुलिस ने गोताखोरों की मदद से निकाले जाकर परिवार को सोपे गए ।

पिकनिक मनाने जयपुर से आये परिवार की खुशियाँ उस वक्त गम में बदल  गई अब जब परिवार को छोड़ चार बच्चे रणथंभोर दुर्ग स्थित तालाब मे नहाने चले गये ,ओर नहाते वक्त गहरे पानी मे चले जाने से चारो की पानी मे डूबकर मौत हो गयी जैसे ही इसका पता लोगो के साथ परिवार को चला वंहा कोहराम मच गया पानी मे डूब जाने से चारो किशोरों  की मौत हो गयी इस घटना की जानकारी जिस किसी को भी मिली वो स्तब्ध रह गया ।

बरसात के इस दौर में छुट्टी के दिन जयपुर के घाटगेट से एक मुस्लिम परिवार रणथंभोर मे पिकनिक मनाने आया था , यह सभी लोग परिवार के साथ एक बस में संवार होकर एक साथ 

रणथम्बोर पहुचे ओर इसी दौरान यह चारो बालक परिवार को छोड़कर एकांत में तालाब में नहाने उतर गए थे जो तालाब की गहराई से शायद अंजान थे और तालाब की गहराइयों में समा गए जिन्हें गोताखोरों की मदद से बाहर निकाला गया, रणथंभोर मे मौसम का लुत्फ उठाने पिकनिक मनाने पहुँचे थे पर जब वापस परिवार के लोग लोटे तो कंधों पर थी अपनी औलादों की लाशें शायद यही पिकनिक इन परिवारों की खुशियो के लिए काफूर बन गयी।

परिवार के कुछ लोगो ने बताया कि रणथंभोर दुर्ग मे एक दरगाह भी है जन्हा वे अपनी मन्नत माँगने पहुँच रहे थे ।तभी परिवार के चार किशोर परिवार  को छोड़कर दुर्ग मे बने तालाब मे नहाने चले गये ।तालाब इन दिनो बरसाती पानी से लबरेज़ है ।पानी की गहराई का अंदाजा जाने बगेर बच्चे पानी मे नहाने उतर गये और देखते ही देखते वे गहरे पानी मे जाने लगे  ।अपने आप को बचाने के लिए उन्होने काफी हाथ पेर भी मारे लेकिन आखिरकार वे अपनी जान से हाथ धो बैठे ।हादसे मे चारो लड़को  की मौत हो गई जब परिवार को अपने बच्चे नही मिले तो वह तलाशने दुर्ग के चक्कर लगाने लगे परिवार के लोगों ने चारो लड़को  को दुर्ग के ऊपर तलाश भी किया लेकिन वे नही मिले । जैसे ही घटना की सूचना रणथंभोर त्रिनेत्र गणेश मंदिर मे पहुँची ,कई लोग मंदिर से मौके पर पहुँचे ।मंदिर ट्रस्ट द्वारा कोतवाली पुलिस को सूचना दी गई ।कोतवाली पुलिस गोताखोर लेकर घटनास्थल पहुँची और चारो बच्चो के शव तालाब से निकलवाए ।शवों को पुलिस ने मशक्कत कर सामान्य चिकित्सालय पहुँचाया जहाँ उन्हे मृत घोषित कर दिया गया ।मृतकों मे 16 वर्षीय समीर ,18 वर्षीय मोहम्मद हसन ,मोहम्मद जुबेर तथा फेजुल है ।परिजनों ने अस्पताल मे शवों का पोस्टमार्टम नहीँ करवाया ।अस्पताल प्रशासन को कहा कि अगर शवों का पोस्टमार्टम किया गया तो वे शव नहीँ ले जाएँगे ।इस पर अस्पताल प्रशासन ने बिना पोस्टमार्टम के चारो शवों को परिजनों को सुपुर्द कर दिया ।

 किशोरों  की लापरवाही घटना का मुख्य कारण बनकर सामने आयी है ।नासमझी मे चारो ने अपने ही हाथो अपना जीवन लील दिया । रणथंभोर दुर्ग स्थित तालाब बेहद गहरे है जिसे जाने बिना ही लोग पानी मे कूद जाते है और असमय ही मौत का ग्रास बन जाते है बड़ी बात ये है कि रणथंभोर के तालाबो पर सुरक्षा के कोई इंतजाम नही है । जिसके चलते यहाँ कई बार हादसे हो जाते है और कई लोग अपनी जिंदगी से हाथ धो बैठते हैं

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!