November 13, 2018
Breaking News

Sign in

Sign up

दीप पर्व आज

By on November 7, 2018 0 17 Views

 

सुख-समृद्धि और वैभव का पर्व दीपावली बुधवार को परंपरानुसार मनाई जाएगी। घरों व व्यापारिक प्रतिष्ठानों में महालक्ष्मी पूजन विधि-विधान से किए जाएंगे। पूजन के बाद बच्चे व बड़े पटाखे छोड़कर खुशियां मनाएंगे। 8 नवंबर को गोवर्धन पूजा कर एक-दूसरे से रामा-श्यामा कर बधाइयां देंगे। 9 नवंबर को भाई दूज मनाया जाएगा। शहर के बाजार रंग-बिरंगी रोशनी से जगमग होने के साथ गुलजार हैं। पूरा शहर रंगोली, आकर्षक लाइटों और दीयों से रोशन है। त्योहार की परंपरानुसार रात्रि में शुभ मुहूर्त में घरों व व्यापारिक प्रतिष्ठानों पर महालक्ष्मी का पूजन कर लोग सुख-शांति व समृद्धि की कामना करते हैं। बाजारों में शोरूम और व्यापारिक प्रतिष्ठानों पर व्यवसायियों ने घरेलू व रोजमर्रा की वस्तुओं को डिस्प्ले कर रखा है। दिपावली के दिन दीप जलाकर भगवान राम के साथ ही देवी लक्ष्मी और गणेश जी की भी पूजा होती है। दीपावली का पूजन प्रदोष काल और स्थिर लग्न में होता है। वृष और सिंह स्थिर लग्न है। सिंह लग्न के समय अमावस्या का अभाव है। इस दिन स्वाति नछत्र सूर्योदय काल से लेकर 19.37 तक रहेगा तत्पश्चात विशाखा लग जायेगा। प्रदोष काल का समय गृहस्थ एवं व्यापारियों के लिए सर्वाधिक उपयुक्त है। प्रदोष काल का मतलब होता है दिन और रात्रि का संयोग काल। दिन भगवान विष्णु का प्रतीक है और रात्रि माता लक्ष्मी का प्रतीक है। धर्म सिंधु के अनुसार प्रदोष काल अमावस्या निहित दीपावली पूजन को सबसे शुभ मुहूर्त है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!