January 18, 2019
Breaking News

Sign in

Sign up

सैकड़ों मतदाता नहीं करेंगे मतदान

By on November 27, 2018 0 43 Views

 

जिले में विधानसभा चुनाव के मतदान का दिन नजदीक आने के साथ ही सभी प्रमुख दलों के नेताओं के प्रचार-प्रसार व तूफानी दौरे जारी है। इस बीच मतदान के बहिष्कार का निर्णय एक गंभीर विषय है। मतदान बहिष्कार करने वाले दो-चार मतदाता नहीं बल्कि पूरा गांव ही है। करीब साढ़ चार सौ मतदाताओं वाला गांव काचरिया टोंक शहर से पैंतीस किलोमीटर दूर है। काचरिया गांव के नेहरू नवयुवक मण्डल के अध्यक्ष सुरेश खटाना ने बताया कि ग्रामीण सुविधाओं के अभाव में जीवन यापन कर रहे हैं। ग्रामीण बोले कि पहली बात तो अभी तक कोई पार्टी का प्रत्याशी प्रचार करने आया ही नहीं और अगर आएगा भी तो हम पहले हमारे गांव की मूलभूत सुविधाओं के लिए बनाई गई सूची के अनुरूप सभी समस्याओं पर लिखित में स्वीकृति लेंगे। ऐसा इसलिए है कि गत बार भी हमें नेताओं ने आश्वासन दिया और कोई भी कार्य अभी तक नहीं हुआ। ऐसे में मतदान का बहिष्कार ही हमारे पास विकल्प हैं।
टोडारायसिंह तहसील के गांव काचरिया की आबादी करीब बारह सौ है और यहां के कई युवा एमए, बीएड पास भी है। लेकिन विकास मे पिछड़े जिले में रोजगार के अवसर भी पर्याप्त नहीं है। ऐसे में यहां के युवाओं में इस बात का दर्द भी है। गामीण युवा पवन शर्मा व धरमचन्द जैन ने कहा कि हमारे गांव में आवागमन के लिए चारों ओर सड़कें नहीं है। ऐसे में रोजाना की समस्या से हमें जो परेशानी होती है उसे देखने वाला कोई नहीं है। पहली बार मतदान के लिए वोट डालने वाले युवा भी इस दौरान बोले कि जब गांव में ही विकास नहीं होता तो हम मतदान क्यों करेंगे। गांव के लोगों की मूलभूत समस्या का जब कहीं निराकरण नहीं हुआ तो थक हारकर करीब दो दर्जन से अधिक ग्रामीण टोंक जिला मुख्यालय स्थित जिला कलक्टर कार्यालय पहुंचे व प्रभारी ज्ञापन दिया।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!