December 11, 2018
Breaking News

Sign in

Sign up

  • Home
  • News
  • Photo
  • गृह कलेश से तंग आकर पत्नि ने ही किया पति का खून….

गृह कलेश से तंग आकर पत्नि ने ही किया पति का खून….

By on September 27, 2018 0 211 Views

ब्लाईण्ड मर्डर का खुलासा…

आरोपी ने घटना को दूसरा रूप देने का किया था  प्रयास… 

टोंक। जिले के नगरफोर्ट थाना क्षेत्र में चार दिन पूर्व हुए ब्लाईंड मर्डर का पुलिस कप्तान योगेश दाधीच द्वारा गठित टीम का खुलासा कर मृतक की हत्या करने के आरोपी उसकी पत्नी को गिरफ्तार किया। जिला पुलिस अधीक्षक योगेश दाधीच ने बताया कि थाना नगरफोर्ट पर जरिये टेलीफोन पुलिस कन्ट्रोल रूम टोंक से ईतला मिली थी कि 23 सितम्बर के रात्रि 10  बजे करीब ग्राम भोजपुरा में धन्नालाल गोस्वामी व उसके पुत्र पप्पू के साथ सोते हुये के साथ अज्ञात व्यक्तियों द्वारा हमला कर मारपीट कर घायल कर दिया, जिनको इलाज हेतु सआदत अस्पताल टोंक में भर्ती कराया, जहां धन्ना लाल की मृत्यु हो गई तथा उसका पुत्र जैर इलाज भर्ती है। जिसकी सूचना पर थानाधिकारी रामपाल मय जाप्ते के सआदत अस्पताल टोंक पहुंचे, जहां मृतक के पुत्र कानाराम गोस्वामी ने एक लिखित रिपोर्ट इस आशय की पेश की कि मैं व मेरा भाई महेश दोनों जयपुर रहते है, पीकअप गाड़ी चलाते है। घर पर मेरे पिता धन्नालाल, मां श्रीमती कैलाशी देवी व छोटा भाई पप्पू थे, जो दिनांक 23 सितम्बर को रात्रि में घर पर सो रहे थे कि 10 बजे करीब किसी अज्ञात हमलावरो ने हमला कर मेरे पिता धन्नालाल व भाई पप्पू पर किसी हथियार से हमला कर गम्भीर मारपीट कर घायल कर दिया, जिनको इलाज हेतु मेरी माँ ने टोंक ले जाकर सआदत अस्पताल में भर्ती कराया। जहां से डॉक्टरो ने मेरे पिताजी को जयपुर के लिये रेफर कर दिया जिनकी रास्ते मे मौत हो गयी तब लाश को वापस लाकर सआदत अस्पताल टोंक के मुर्दाघर में रखवाई गई।  जिस पर मामला हत्या का पाया जाने पर पुलिस ने मामला दर्ज कर अनुसंधान प्रारम्भ किया गया। इस घटना का खुलासाकरने व आरोपियों की तलाश हेतु पुलिस अधीक्षक योगेश दाधीच के आदेशानुसार अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अवनीश कुमार शर्मा के मार्ग निर्देशन व वृताधिकारी वृत उनियारा विजय कुमार व वृताधिकारी वृत टोंक  हरिप्रसाद सोमानी के नेतृत्व में थानाधिकारी नगरफोर्ट रामपाल विश्रोई, थानाधिकारी उनियारा संग्रामसिंह, कोतवाली टोंक थाने के उपनिरीक्षक दयाराम, साईबर सेल हैड कांस्टेबिल सुरेश चांवला, डीएसबी से कांनिस्टेबल शिवपाल, हैड कांस्टेबिल रामरतन, कानिस्टेंबिल राधेश्याम, हेमराज, मनोहर सिंह की टीम बनाई गई, जिस पर टीम द्वारा गोपनीय तौर पर जानकारी व तकनीकी संसाधनो का उपयोग करते हुए 27 सितम्बर गुरुवार को महत्वपूर्ण सफलता हासिल की और संदिग्ध मृतक की पत्नि श्रीमती कैलाशी देवी पत्नी स्व. धन्नालाल जाति गोस्वामी उम्र 50 साल निवासी भोजपुरा थाना नगरफोर्ट से गहनता से पूछताछ की गई तो स्वंय द्वारा उक्त घटना कारित करना स्वीकार किया, जिसको गिरफ्तार किया जाकर गहनता से अनुसंधान किया जा रहा है।

यूं हुआ घटनाक्रम

पुलिस के अनुसार मृतक धन्नालाल व उसकी पत्नि में पिछले काफी समय से अनबन चल रही थी तथा दोनों पति-पत्नि घर में अलग-अलग रहते थे व खाना भी अलग बनाते थे, फिर भी घरेलू छोटी मोटी बात को लेकर आपस में लड़ाई झगड़ा होता रहता था। मृतक के चार पुत्र है जिनमें से तीन बाहर रहते है तथा छोटा पुत्र पप्पू घर पर ही रहता था। जो दिन मे भैंसों को लेेकर चराने चला जाता तथा शाम को वापस आता, उस दौरान मृतक की पत्नि के साथ मारपीट करता व घर के कमरे में बंद कर देता पुत्र पप्पू के आने से पहले निकाल देता, रोटी भी नही खाने देता कैलाशी देवी अपने पुत्रों को शिकायत करती तो कोई भी अपने पिता को कुछ नहीं कहता था। इस प्रकार रोज-रोज की गृह कलेश से तंग आकर मृतक की पत्नी ने मन बनाया कि या तो मैं मर जांऊ या इस को मार दूं। इसी गृह कलेश को देख कर कैलाशी देवी 23 सितम्बर की रात्रि को मौका देखकर अपने पति के सोते हुये पर कुल्हाड़ी से ताबड़ तोड़ हमला कर घायल कर दिया तथा अपने पुत्र पप्पू जो अपने पिता का पक्ष लेता था, जिससे नाराज थी व कुल्हाड़ी से हमला कर एक चोट मारी, इतने में जाग गया तथा माँ-माँ क्या कर रही है, तब कैलाशी देवी ने बात को घुमाते हुए कि तेरे किसी ने मार दी, मैं तेरे पट्टा बांधती हूँ कह कर पट्टी की। उक्त महिला कैलाशी देवी ने अपने पुत्र पप्पू को बहकावे में लेकर किसी अज्ञात हमलावर द्वारा मारपीट कर चोट पहुंचा कर घायल करने व अज्ञात हमलावर मोटर साईकिल से भाग जाने की मन गठत कहानी बना कर झंूठी सूचना पुलिस को दी।
Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!