August 21, 2018
Breaking News

Sign in

Sign up

  • Home
  • Interview
  • Social Workers
  • Inauguration of a Brush Nation painting exhibition# एक ब्रश राष्ट्र के नाम  चित्रकला प्रदर्शनी का उद्घाटन

Inauguration of a Brush Nation painting exhibition# एक ब्रश राष्ट्र के नाम  चित्रकला प्रदर्शनी का उद्घाटन

By on July 28, 2018 0 65 Views

 

हिंसक घटनाओं को रोकने का दायित्व युवा शक्ति के कंधों पर 

-रामजी सिंह

 टौंक  28 जुलाई जाने-माने गांधीवादी विचारक इंटरनेशनल सोसाइटी ऑफ सोशल फिलॉस्फी के चेयरपर्सन और पूर्व सांसद डॉ रामजी सिंह ने टौंक मे प्रात 11 बजे सेंट जोजफ हाल मे आयोजित युवा संसद मे कहा कि देश में बन रहे नफरत के वातावरण को हिंसक घटनाओं को रोकने का दायित्व युवा शक्ति के कंधों पर है जिस दिन यह तरुणाई करवट लेगी यह नफरत और वैमनस्यता का वातावरण मूल रूप से समाप्त हो जाएगा देश में गांधी प्रासंगिक रहे हैं  कोई भी दुनिया का युद्ध हो प्रथम युद्ध  द्वितीय युद्ध  या कोई भी देशों के आपसी युद्ध अब हिंसा का कोई हिंसा स्थान नहीं रहने वाला है हिंसा के हथियार समय-समय पर बदलते रहे हैं और अब स्थिति यह आ गई है कि हिंसा परमाणु बम और अणु बम पर आकर ठहर गई है यह हिंसा की पराकाष्ठा है एक विद्वान वैज्ञानिक ने कहा है कि अपकृत्य नहीं सीधा चतुर्थी युद्ध होगा इस चतुर्थ विश्व युद्ध  के बाद इंसान हिंसा के लिए किसी हथियार का नहीं अपितु अपने नाखूनों ओर दाँतो  का इस्तेमाल करने लगेगा क्योंकि जब सारी चीज ही नष्ट हो जाएगी तो फिर बचेगा क्या सर रामजी सिंह ने कहा कि भारतीय सभ्यता संस्कृति समरसता की रही है इसमें आंतरिक तौर पर बढ़ रही हिंसा का मुकाबला युवाशक्ति कर सकती है अहिंसा और प्रेम के भाव को लेकर एक ऐसा वातावरण बनाया जाए जिसमें हिंसा का कोई स्थान ना हो युवा शक्ति के चमत्कार कर सकती है और मैं युवा शक्ति से आह्वान करता हूं कि वह देश में गांधी विनोबा के विचार का भारत बनाने का काम करें 
 प्रोफेसर रामजी सिंह टोंक में आयोजित युवा संसद में अपने उद्गार व्यक्त कर रहे थे कहा कि युवा शक्ति में समर्थ और क्षमता होती है जिसमें क्मता होती है वह जोखिम उठा सकता है और जो जोखिम उठा सकता है वही इंकलाब लाता है कार्यक्रम की अध्यक्षता गांधी 150 शताब्दी वर्ष  कार्य समिति के मुजीब आजाद ने की मैंने कहा कि टोंक में ऐतिहासिक गंगा जमुनी संस्कृति है से निकलने वाली सदभावना की ज्योति पूरे देश में फैलने वाली है साझा संस्कृति साझी विरासत के आधार पर काम करके युवा शक्ति सांप्रदायिक शक्तियों को जवाब देगी प्रेम और व्यवहार से दिल जीतने का काम किया जाएगा राजसत्ता लोकसत्ता से दूर रहकर जन शक्ति को मजबूत करने का काम होना चाहिए कार्यक्रम में मुख्य वक्ता महात्मा गांधी के वर्धा आश्रम महाराष्ट्र से आए आचार्य कुल के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉक्टर हीरालाल श्रीमाली ने कहा कि उत्तम चरित्र वाला व्यक्ति  ही आचार्य होता है पूरे देश को आचार्यों की जरूरत है राष्ट्रीय संत विनोबा भावे के विचारों पर चलकर युवा के निर्माण के लिए आगे आएं उन्होंने बताया कि आचार्य कुल पूरे देश में गांधी विनोबा के विचारों को लेकर समर्पित भाव से काम कर रहा है कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि समग्र सेवा संघ के प्रदेश अध्यक्ष सवाई सिंह ने कहा कि युवा पीढ़ी को हिंद स्वराज पढ़ना चाहिए देश में सामाजिक समानता लिए समर्पित होकर कार्य करने की आवश्यकता है लोकतंत्र में आ रही विसंगतियों पर प्रकाश डालते हुए सवाई सिंह ने कहा कि राजनीतिक मूल्यों की पुनर्स्थापना की आवश्यकता है एडवोकेट अरविंद भारद्वाज ने कहा कि वृद्धों का अनुभव और युवाओं की ऊर्जा को समाहित कर कर देश हित में काम करने की आवश्यकता है एक पुरुष राष्ट्र के नाम अभियान की संयोजक डॉक्टर मुक्ति पाराशर ने कहा कि महापुरुषों के बलिदान से प्रेरणा लेकर युवा शक्ति आगे काम करने के लिए लालायित है आज़ादी की कीमत वह जानते हैं जिन्होंने बलिदान को देखा और समझा है हमें महसूस करना चाहिए कि बलिदान की क्या कीमत हमारे देश के महापुरुषों ने दी है कार्यक्रम का संचालन समाजसेवी शिक्षाविद डॉक्टर  गोवर्धन हीरोनी ने किय  अतिथियों का स्वागत  सम्मान शॉल उड़ाकर किया गया युवा संसद के आयोजन पर डॉक्टर गोवर्धन हीरोइन ने प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा कि युवाओं के लिए यह संसद एक प्रेरणा का स्रोत बनी है कार्यक्रम में मुख्य रूप से धर्मवीर कटेवा डॉ बागला शब्बीर नागौरी मोहम्मद अहसान नंदलाल धाकड़ किशोर माथुर रिजवान खान राकेश शर्मा सहित शहर के प्रबुद्ध नागरिक गण उपस्थित थे छात्र संसद में स्नातक स्तर के ने छात्रों ने भाग लिया आभार एडवोकेट महावीर चोपड़ा ने जताया।

  एक ब्रश राष्ट्र के नाम  चित्रकला प्रदर्शनी का उद्घाटन

 प्रोफेसर रामजी सिंह द्वारा एक ब्रश राष्ट्र के नाम प्रदर्शनी का उद्घाटन किया गया 18 57 से लेकर 1947 के  जंगे आजादी में शहीद हुए बलिदानियों की गौरव गाथा पर चित्रित किए गए चित्रों का प्रदर्शन प्रेमजी फाउंडेशन पर किया गया इस दो दिवसीय चित्रकला प्रदर्शनी में कलाकारों ने चित्रों के माध्यम से राष्ट्र भावना को जागृत करने का प्रयास किया है कार्यक्रम की संयोजक डॉक्टर मुक्ति पाराशर ने बताया कि यह अनूठा अभियान अभिव्यक्ति है राष्ट्रभावना की उद्घाटन के पश्चात प्रोफेसर रामजी सिंह ने कहा कि चित्र अपनी कहानी स्वयं बयान कर रहे हैं कलाकारों ने जिस भावना के साथ इस चित्रों को किया है काबिले तारीफ है प्रदर्शनी में डॉक्टर अन्नपूर्णा शुक्ला द्वारा महात्मा गांधी की कैनवास पर बनाई गई विश्व की सबसे बड़ी तस्वीर की विशेषताएं बताई  प्रदर्शनी में इंदिरा गांधी की जीवनी  शहीद देश की अनेक घटनाओं को चित्रित किया गया है शहीद भगत सिंह चंद्रशेखर खुदीराम बोस अशफाक उल्ला खान जलियांवाला बाग काला पानी इत्यादि जैसे ज्वलंत घटनाओं पर आकर्षक चित्रों का प्रदर्शन रखा गया है महात्मा गांधी 150 वर्ड्स जयंती समारोह के अंतर्गत आयोजित इस चित्रकला प्रदर्शनी में जाने माने गांधीवादी प्रोफेसर रामजी सिंह के साथ आचार्य कुल के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉक्टर हीरालाल श्रीमाली मुजीब आजाद सवाई सिंह अरविंद भारद्वाज  के रुप में उपस्थित थे
 चित्रकला प्रदर्शनी में मुख्य रूप से जनसरोकार मंच के देवेंद्र जोशी अशोक सक्सेना शब्बीर नागौरी एहसान बाबा अनिल गोस्वामी हमीद खान नंदलाल धाकड़ चोर माथुर सोहन लाल सुमन डॉक्टर बागला शकुंतला इत्यादि मुख्य रूप से उपस्थित थे प्रबुद्ध जनों ने कलाकारों की कलाकृतियों की भूरि-भूरि प्रशंसा की डॉक्टर मुक्ति पाराशर ने अतिथियों का शाल ओढ़ाकर स्वागत किया मुख्य अतिथि प्रोफेसर रामजी सिंह ने अभियान के कैटलॉग का विमोचन किया इस अनूठे कार्यक्रम से भावना जागृत हो इसी उद्देश्य से समर्पित होकर कलाकार अपनी चित्रकला को उत्साह के साथ प्रदर्शित कर रहे हैं।
Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *