December 11, 2018
Breaking News

Sign in

Sign up

  • Home
  • News
  • Photo
  • रोडवेज कर्मचारीयों ने लोक परिवहन बस का किया विरोध….

रोडवेज कर्मचारीयों ने लोक परिवहन बस का किया विरोध….

By on September 21, 2018 0 157 Views

पुलिसकर्मियों ने लोक परिवहन बसों को बस स्टेण्ड से दूर करवाया..

रोडवेज की चक्काजाम हड़ताल पांचवे दिन भी जारी … 

टोंक। रोडवेज की चक्काजाम हड़ताल पांचवे दिन भी जारी रही, इस दौरान लोक परिवहन वाहनों की बस स्टेण्ड़ से संचालन करने पर हड़ताल कर रहे श्रमिक संगठन के पदाधिकारियों ने विरोध करते हुए हंगामा कर दिया। लेकिन इससे पहले की मामला बढ़ता बस स्टेण्ड चौंकी पर मौजूद पुलिसकर्मियों ने लोक परिवहन बसों को बस स्टेण्ड से दूर करवाया। वही दूसरी ओर हड़ताल कर पदाधिकारियों ने पांच तक चक्काजाम हड़ताल करने के बावजूद सुनवाई नही होने पर सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। रोडवेज बस स्टेण्ड से लोक परिवहन बसों को संचालन किए जाने के विरोध में हड़ताल कर रहे रोडवेज श्रमिक संगठनो के पदाधिकारियों ने विरोध किया।
उन्होने लोक परिवहन की बसों को बस स्टेण्ड से 500 मीटर की दूरी से संचालन करने की मांग करते हुए प्रदर्शन किया। दरअसल राजस्थान रोडवेज श्रमिक संगठनों के सयुक्त मोर्चा की ओर से पिछले पांच दिन से चक्काजाम हडताल जारी हैं। ऐसे में सरकार और रोडवेज संगठनों की खींचतान से जहां रोडवेज को लाखों के राजस्व का नुकसान हो चुका हैं वही आमजन को भी इससे खासी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा हैं। शुक्रवार को हड़ताल के पंाचवे दिन जिला मुख्यालय स्थित बस स्टेण्ड सुनसान नजर आया हैं, बस स्टेण्ड से लोक परिवहन वाहनों को संचालन मिलने की खबर पर श्रमिक संगठनों के पदाधिकारियों ने इसका विरोध करते हुए सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए लोक परिवहन वाहनों को संचालन बस स्टेण्ड से कम से कम 500 मीटर की दूरी से करने की मांग की। उन्होने बस स्टेण्ड स्थित चौकी में मौजूद पुलिसकर्मियों को इसकी शिकायत की, पुलिस की दखल के बाद लोक परिवहन बस के चालक वहां से रवाना हुए। जिसके बाद जाकर रोडवेजकर्मियों ने हंगामा बंद किया।
लोक परिवहन बसों को रोडवेज बस स्टेण्ड से दूर संचालित करने, रोडवेजकर्मियों को भर्ती करने सहित कई मांगो को लेकर रोडवेज से जुडे विभिन्न संगठनों ने संयुक्त मोर्चा बनाकर सरकार के खिलाफ आंदोलन कर रहे हैं। कर्मचारियों ने बताया कि चक्काजाम हड़ताल सरकार या परिवहन विभाग की ओर से कोई उनसे बात करने नही आया हैं, जिससे कर्मचारियों में सरकार के प्रति आक्रोश बढ़ रहा है। हम आपकों बताया कि पिछले पांच दिन से रोडवेज संगठनों की इस बेमियादी चक्काजाम हड़ताल के कारण राजस्थान के अन्य डीपों की तरह टोंक डीपों की 74 एवं अनुबंधित बसें मिलाकर 94 बसों का संचालन नही होने से यात्रियों को तो परेशानी हुई ही। इसके साथ-साथ घाटे के दौर से गुजर रही रोडवेज को इन पांच दिनों दिन में करीब 50 लाख का नुकसान हो गया है। लेकिन ना तो सरकार और ना ही रोडवेज श्रमिक संगठन से जुडे पदाधिकारियों को इसे कोई सरोकार नजर आ रहा हैं।
Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!