March 20, 2019
Breaking News

Sign in

Sign up

  • Home
  • News
  • Video
  • महावीर प्रसाद जैन ने जन्माष्ठमी मटकी फोड़ प्रतियोगिता में लिया भाग।

महावीर प्रसाद जैन ने जन्माष्ठमी मटकी फोड़ प्रतियोगिता में लिया भाग।

By on September 3, 2018 0 806 Views

महावीर प्रसाद जैन ने जन्माष्ठमी मटकी फोड़ प्रतियोगिता में लिया भाग।

चंदलाई,तारण सहित कई गांवों के लोगो से मिले महावीर प्रसाद।

जैन की सक्रियता से टोंक की राजनीति में मची उथल-पथल ।

टोंक के चंदलाई गांव में जन्माष्ठमी पर मटकी फोड़ प्रतियोगिता में पूर्व मुख्य से सचेतक महावीर प्रसाद जैन क्या पहुचे जैन की सक्रियता चर्चाओ में आ गयी इस दौरान जंहा ग्रामीणों ने जैन का जोरदार स्वागत किया वही लोगो ने जैन को समस्याओ से भी अवगत कराते हुए वर्तमान में बीजेपी की राजनीति पर चर्चा की ओर कई जगह उनसे चुनाव लड़ने का भी आग्रह किया जिस पर महावीर जैन ने यही कहा में आपकी हर तकलीफ ओर दुखदर्द में आपके साथ हु ओर चुनाव लड़ने के सवाल पर कहा कि पार्टी जो चाहेगी वह में करूँगा।
टोंक बीजेपी की राजनीति में इन दिनों जितनी चर्चा बीजेपी की गुटबाजी को लेकर है उससे कही ज्यादा चर्चा इन दिनों बीजेपी और संघ के दिग्गज नेता और पूर्व मुख्य सचेतक रहे महावीर प्रसाद जैन की सक्रियता को लेकर है,जैन की सक्रियता के अलग-अलग कयास लगाए जा रहे हो पर अहम बात यह भी है कि बीजेपी अध्यक्ष का जैन से मिलने निवाई पहुचना ओर यह बयान देना की महावीर जी जनसंघ के जमाने मे टोंक जिले में बीजेपी को खड़ी करने वाले प्रथम एक-दो व्यक्तियों में शामिल रहे है अपने आप में महत्वपूर्ण बात है और राजनैतिक संकेत भी है कि संभवतया बीजेपी टोंक सीट पर अगर बदलाव की देखती है तो महावीर प्रसाद जैन बीजेपी का पुनः चेहरा हो सकते है और संघ से जैन के निकट सम्बन्ध इसमे मददगार साबित होंगे।
चंदलाई में जैन का स्वागत पूर्व सरपंच प्रेमलाल गुर्जर के साथ कमलेश बैरवा,पूर्व सरपंच ओम गुप्ता के साथ ही श्याम लाल,रामदेव,रमेश ओर रतन लाल,पप्पू डीजे ओर देवा लाल गुर्जर,हनुमान गुर्जर के साथ ग्रामीणों ने किया इस अवसर पर भगवान दास सेठी,राजेन्द्र अग्रवाल,महेश गुप्ता,गुड्डू के अलावा पूर्व पार्षद रामधन यादव भी मौजूद थे,इससे पहले महावीर जैन का स्वागत तारण गांव पहुचने पर ग्रामीणों ने किया और ग्राम वासियो ने कहा कि महावीर जी हम सब आपके साथ है,आप सक्रिय होकर जनता की सुध ले और जनता आपकी सेवा को आज भी याद करती है।
Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!