September 25, 2018
Breaking News

Sign in

Sign up

  • Home
  • News
  • Video
  • मालपुरा में कर्फ्यू तनाव पूर्ण शांति ।

मालपुरा में कर्फ्यू तनाव पूर्ण शांति ।

By on August 25, 2018 0 525 Views

मालपुरा में कर्फ्यू के बीच तनावपूर्ण…?

सांसद, विधायक ने पुलिस के सामने खड़े किए सवाल

40 घण्टो में 2 गाड़िया,7 दुकाने जलाई।
मालपुरा में कांवड़ यात्रा पर हमले के बाद भड़की हिंसा प्रसाशन ने कर्फ्यू लगाकर नियंत्रण पा लिया है और तनावपूर्ण शांति जारी है पर सांसद के बाद विधायक कन्हैय्या लाल ने भी पुलिस पर गंभीर आरोप लगाए है कि अगर समय रहते पुलिस राष्ट्रद्रोह के मामले में वांछित 21 लोगो को गिरिफ्तार कर लेती तो कांवड़ियों पर हमला नही होता,फिलहाल मालपुरा में कर्फ्यू जारी है और पिछले 10 घण्टे से कोई अप्रिय घटना नही घटी है मालपुरा में कांवड़ियों पर हमले के बाद मालपुरा विधायक ने भी सांसद की तरह ही पुलिस पर सवाल खड़े किए है और कहा है कि पुलिस को कांवड़ यात्रा पर  पूरे सुरक्षा के इंतजाम करने चाहिए थे पर नही किये वही पुलिस अगर राष्ट्रद्रोह जैसे मामलों में गंभीर होती तो कांवड़ यात्रियों पर यह हमला नही होता।


मालपुरा में शुक्रवार की दोपहर आगजनी के बाद लगाए कर्फ्यू के बीच पुलिस अधीक्षक योगेश दाधीच ने लोगो से शांति की अपील की है तो वंही शिवसेना ने आरोपियों की गिरफ़तारी की मांग की है ओर कहा है कि मालपुरा के दोषियों को जल्द से जल्द गिरिफ्तार किया जाए,मालपुरा में पथराव ओर दुकानों में आग लगाने की घटनाओं के बीच लोगो के बीच अफवाहों का बाजार गर्म है वही कांवड़ियों पर सुनियोजित हमले को लेकर हिन्दू संगठनों में गहरी नाराजगी भी है।
मालपुरा में कर्फ्यू की घोषणा के बाद ही आगजनी का दौर थमा ओर कर्फ्यू की घोषणा से पहले मालपुरा में और 5 दुकानों में आग लगा दी गयी थी  ओर कस्बे में चारो ओर जगह जगह लोग एकत्र थे तो बीजेपी सांसद और विधायक मालपुरा में तनाव के बीच भी तिंरँगा यात्रा निकालने पर अड़े थे और पुलिस,एसटीएफ,ओर आरएसी हालात पर काबू पाने का प्रयास कर रही थी और वही जगह जगह पथराव की खबरे आ रही थी ओर मालपुरा में अफवाहों के दौर के बीच कर्फ्यू की घोषणा की गई थी।

अजमेर रेंज आईजी बीजू जार्ज भी मालपुरा पहुचे थे और हालात पर काबू पाने को सभी प्रयास किये गए,कर्फ्यू की कल 2 बजे घोषणा के बाद से अब तक कोई आगजनी की घटना नही हुई है और पूरे इलाके में तनावपूर्ण शांति बनी हुई है,पर अब पुलिस पर दबाव यह है कि राष्ट्रद्रोह के एक मामले में वह एक साल पहले से वांछित 21 लोगो को जिन्होंने पाकिस्तान जिंदाबाद ओर आईएसआई जिंदाबाद के जुलूस निकालकर नारे लगाए थे पहले गिरिफ्तार करे यह मांग क्षेत्रीय विधायक,सांसद ने उठाई है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *