November 13, 2018
Breaking News

Sign in

Sign up

  • Home
  • News
  • Photo
  • दूनी थाना पुलिस नही कर रही नशेड़ियों पर कारवाई…

दूनी थाना पुलिस नही कर रही नशेड़ियों पर कारवाई…

By on August 13, 2018 0 73 Views

कारवाई नही होने से नाराज ग्रामीणों ने किया प्रदर्शन…
टोंक। (रोहित कुमार) जिला मुख्यालय पर टोंक जिले के दुनी कस्बे के ग्रामीणो नें जिला कलेक्ट्रेट कार्यालय पर पुलिस प्रशाषन के खिलाफ प्रदर्शन कर जिला कलेक्टर को ज्ञापन देकर नशेड़ियों पर कारवाई की मांग की है। कहा कि दुनी थाना पुलिस को नामजद रिपोर्ट देने के बाद भी चरस स्मैक जैसी घातक नशे की सामग्री बेचनें वालों पर कारवाई नही की जा रही है,कई बार दुनी थाना पुलिस को इस घातक नशे की ब्रिक्री करने वालों की सूचना भी दी जाती है,फिर भी पुलिस उन नशे की सामग्री बेचने वालों और इसका सेवन करने वाले नशेड़ियों पर कारवाई नही कर रही है। दुनी थाना पुलिस द्वारा नशेड़ियों पर कारवाई नही करने से नाराज दुनी कस्बे की महिलाएं व पुरूष आज जिला कलेक्टर के पास पहुंचे और कारवाई की मांग की।

टोंक जिलें सहित ग्रामीणें क्षेत्रों मे चरस स्मैक जैसी घातक नशे की सामग्री बेचने एक आम बात हो गई है,लगातार चरस स्मैक की लत बच्चों मे ज्यादातर बढती जा रही है। नशे करने वाले चोरी की घटनाओं को भी अंजाम देने लगे है। दरअसल आज दुनी कस्बे की महिलाएं व पुरूष जिला कलेक्टर से मांग कर चरस स्मैक बेचनें व नशा करने वालों पर कारवाई की मांग की है। ग्रामीणों ने बताया कि दुनी कस्बे में चरस स्मैक धडल्ले से बैंचा जा रहा है,और इस नशे के शिकार नाबालिग बच्चे होते जा रहे है।

उन्होंने बताया कि दुनी थानाधिकारी को कई बार इस बारे में ज्ञापन देकर भी शिकायत की लेकिन फिर भी दुनी थानाधिकारी चरस स्मैक बेंचने व नशा करने वालों पर कोई कारवाई नही कर रहे है। उन्होंने कहा उनके बच्चे नशे के शिकार होते जा रहे है,वह नशा करने के लिए अपने ही घरों में चोरीयों व घरेलु सामान बेचने लगे है। इससे परेशान होकर दुनी कस्बे के ग्रामीण जिला कलेक्ट्रेट कार्यालय पहुंचकर पुलिस प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी कर चरस स्मैक बेंचने व नशेडीयों पर कारवाई की मांग की है। उन्होंने चेतावनी दी है कि पांच दिन में कारवाई नही हुई तो जेल भरों आन्दोलन होगा जिसकी पूरी जिम्मेदारी जिला प्रशासन की होगी।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!