March 18, 2019
Breaking News

Sign in

Sign up

  • Home
  • Interview
  • Social Workers
  • वसुंधरा, शिवराज व रमन सिंह को मिली नई जिम्मेदारी।

वसुंधरा, शिवराज व रमन सिंह को मिली नई जिम्मेदारी।

By on January 11, 2019 0 73 Views

 

तीन महत्वपूर्ण राज्यों में भाजपा के चुनाव हारने के बाद तीन राज्यों के पूर्व मुख्यमंत्री की राज्यों की राजनीति से छुट्टी कर दी गई है। शिवराज सिंह, रमनसिंह और वसुंधरा राजे सिंधिया को केंद्रीय टीम में उपाध्यक्ष बना दिया गया है। ये नियुक्तियां पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की दिल्ली में होने वाली बैठक के ठीक एक दिन पूर्व किया गया है। इसे पार्टी में दूसरी मजबूत लाइन तैयार करने की दृष्टि से देखा जा रहा है। भाजपा ने मध्यप्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चैहान, राजस्थान की पूर्व सीएम वसुंधरा राजे और छत्तीसगढ़ के पूर्व सीएम रमन सिंह को राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बनाया है। तीनों को लोकसभा चुनाव के म६ेनजर नई जिम्मेदारी सौंपी गई है। शिवराज और रमन सिंह लगातार तीन बार मध्यप्रदेश के सीएम रहे। वहीं, वसुंधरा ने 2013 में राजस्थान सीएम पद की कमान संभाली थी। इस बार तीनों नेताओं ने अपनी कुर्सी कांग्रेस के हाथों गंवा दी। चुनावी हार के बाद चर्चा थी की तीनों नेताओं को केंद्रीय राजनीति में लाया जा सकता है। आज इस पर मुहर भी लग गई। पार्टी अध्यक्ष अमित शाह ने तीनों नेताओं को लोकसभा चुनाव के म६ेनजर राष्ट्रीय उपाध्यक्ष नियुक्त किया है।

मध्यप्रदेश में गोपाल भार्गव को सदन में नेता प्रतिपक्ष बनाया गया था तभी साफ हो गया था कि शिवराज को केंद्र की राजनीति में लाया जाएगा। हालांकि, चुनाव में हार के बाद वह कहते नजर आये थे कि मैं मध्य प्रदेश में ही रहंूगा। इसी तरह राजस्थान में वसुंधरा की जगह कैलाश मेघवाल को नेता विपक्ष बनाए जाने की चर्चा थी। शिवराज सिंह मध्यप्रदेश में तीन बार मुख्यमंत्री बन चुके हैं। राज्य के संगठन पर मजबूत पकड़ रखने वाले शिवराज सिंह केंद्र में पार्टी संगठन को मजबूती दे सकते हैं। छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह की कामकाज की शैली पार्टी को लाभ पहुंचा सकती है। जबकि राजस्थान की मुख्यमंत्री रही वसुंधरा राजे की पार्टी संगठन के कुछ नेताओं से गहरे मतभेद होने की बात कही जा रही थी। ऐेसे में लोकसभा चुनाव के ठीक पहले पार्टी ने उन्हें राज्य संगठन से उठाकर केंद्रीय संगठन में जगह दी है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!