December 11, 2018
Breaking News

Sign in

Sign up

  • Home
  • News
  • Photo
  • सीएम के दौरे से पहले ही घटिया सडक निर्माण की खुली पोल…

सीएम के दौरे से पहले ही घटिया सडक निर्माण की खुली पोल…

By on September 25, 2018 0 369 Views

 

टोंक। मुख्यमंत्री के टोंक दौरे को लेकर जहां षहर में जगह-जगह एक के बाद एक सड़कों का नवीनीकरण किया जा रहा हैं, वही दूसरी ओर इसमें गुणवत्तापूर्ण सामग्री का इस्तेमाल नही होने से यही सड़कें आमजन के लिऐ परेषानी का सबब बनती जा रही है। सड़कों की घटिया गुणवत्ता का हाल यह है कि आज षहर के सिविल लाइन क्षेत्र में खड़ी कार अचानक सड़क में धंस गई, जिससें आस-पास भीड जमा हो गई। लोगो ने आरोप लगाया कि सड़क को बने एक महिना भी नही हुआ और आए-दिन इस तरह की घटनाए देखने को मिलती हैं। पिछले एक महिनें से टोंक षहर में सड़को के नवीनीकरण का काम चल रहा हैं लेकिन गुणवत्ता के अभाव में एक के बाद एक सड़की हकीकत सामने आती जा रही हैं,

सिविल लाइन क्षेत्र में भी कुछ ऐसा ही देखने को मिला जब डीपों से घंटाघर की ओर आ रहे एक इनोवा गाडी चालक ने गाडी साईड में खडी कर फोन पर बात करने लगा, लेकिन अचानक उसकी इनोवा कार के एक तरफ के पहिये सड़क में धंस गए। अचानक घटी इस घटना से हर कोई अचंभित रह गया हैं, स्थानीय लोगो ने बताया कि पिछले महिने ही यह रोड बनाई गई थी। लेकिन आए इस तरह हादसे देखने को मिल जाते हैं, ऐसे में मुख्यमंत्री के टोंक दौरे बावजूद सड़कों की बनाने में गुणवत्ता की कमी रखना अधिकारियों एवं ठेकेदारों की मिलीभगत का संकेत हैं। वही दूसरी ओर सड़क में पहिया आधे से ज्यादा धंसने की वजह से गाडी को भी नुकसान पहुंचा हैं, जिससे खफा लोगो सड़क बनाने वाले ठेकेदार को बुलाने पर अड़े रहे। उनका कहना है कि जिनकी वजह से कार को नुकसान पहुंचा हैं, वही इस नुकसान की भरपाई करें। मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे 28 को टोंक में गौरव यात्रा पर आ रही है लेकिन शहर की सड़कों के हालात किसी से छिपे नही है,आपकी खड़ी गाड़ी भी कब सड़क में बैठ जाये किसी से छिपा नही हैं, यह हालात तो सिविल लाइन के है या कहे पूरे शहर के हालात ही ऐसे ही हैं,

दो दिन पहले नगर परिषद ने पुलिस लाइन से बम्बोर गेट तक जो सड़क बनाई थी वह दो दिन भी नही चली और दो ही दिन में उधड़ भी गयी क्या ऐसे ठेकेदार को ब्लैक लिस्टेड नही किया जाना चाहिए जिसमें यह भी नही सोचा कि यह सड़क मुख्यमंत्री के आगमन के लिए बनाई जा रही है, शायद भर्ष्टाचार का बोलबाला ही टोंक में इतना है कि ठेकेदारों को न आमजनता की परवाह है न मुख्यमंत्री की बस परवाह है तो सिर्फ घटिया निर्माण कर अधिकारियों, नेताओ की जेबें भरने की है और यही कारण है कि शहर का सत्यानाश हो चुका है पर परवाह किसी को नही है। वही दूसरी ओर कई काॅलोनियों एव मुख्य रोड़ पर पक्की सीसी सड़कों को तोडकर दोबारा सड़कें बनवाई जा रही हैं, जिससें लोगो को परेषानियों को सामना करना पड़ रहा हैं। षहर के मोतीबाग रोड में इन दिनों कुछ यही काम किया जा रहा हैं, जिससें वहां के वासिंदों को आवागमन में परेषानी हो रही हैं। वही इस मामलें में नगर परिशद से लेकर अन्य विभागों के अधिकारी कुछ भी बोलने से कतराते रहे।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!