January 18, 2019
Breaking News

Sign in

Sign up

  • Home
  • Interview
  • Politician
  • विपक्ष ने बिहार में बिछाई 2019 के महागठबंधन की बिसात

विपक्ष ने बिहार में बिछाई 2019 के महागठबंधन की बिसात

By on December 21, 2018 0 22 Views

 

तीन राज्यों में मिली जीत की टाॅनिक से उत्साहित विपक्ष ने बिहार में महागठबंधन को मूर्त रूप देकर 2019 के सियासी संग्राम की बिसात बिछाने की कसरत तेज कर दी है। एनडीए से नाता तोड़ने वाली राष्ट्रीय लोक समता पार्टी अब औपचारिक रूप से महागठबंधन में शामिल हो गई है। कांग्रेस के दिग्गज अहमद पटेल और राजद नेता तेजस्वी यादव की मौजूदगी में उपेंद्र कुशवाह ने महागठबंधन का दामन थाम मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर जमकर सियासी तीर चलाए। महागठबंधन के स्वरूप पर तो विपक्ष खेमे में सहमति बन गई मगर सीट बंटवारे के फार्मूले पर अभी कोई बात नहीं हुई है। विपक्ष खेमे ने महागठबंधन का दायरा बढ़ाने का विकल्प खुला रखने के दांव के तहत सीट अपनायी है। विपक्ष खेमे में शामिल हुए कुशवाहा के साथ तेजस्वी यादव ने सियासी मौसम के बदलने की बात कह लोजपा के लिए महागठबंधन का दरवाजा खुला होने का पूरा संदेश देने की कोशिश भी की। कांग्रेस मुख्यालय चैबीस अकबर रोड पर कांग्रेस कोषाध्यक्ष अहमद पटेल की मौजूदगी में औपचारिक रूप से कुशवाहा महागठबंधन का हिस्सा बने। इस दौरान राजद नेता तेजस्वी यादव, हम नेता पूर्व सीएम जीतन राम मांझी, लोकतांत्रिक जनता दल के शरद यादव के साथ बिहार कांग्रेस के प्रभारी शक्ति सिंह गोहिल भी मौजूद थे। अहमद पटेल ने कुशवाहा का महागठबंधन में स्वागत करते हुए कहा कि बिहार ने विपएकजुटता की पहल की शुरूआत कर दी है। तीन बड़े हिन्दी भाषी राज्यों में कांग्रेस की जीत को 2019 के लोकसभा संग्राम में बदल रहे मिजाज का संकेत बताते हुए उपेंद्र कुशवाहा ने कहा कि राहुल गांधी ने किसानों के साथ सामाजिक न्याय की लड़ाई को अब सियासी एजेंड़ा बना दिया है। दूसरी तरफ एनडीए में उन्हें बार-बार सामाजिक न्याय के मसले पर अपमानित किया गया और इसीलिए वे राहुल गांधी के नेतृत्व में युपीए का हिस्सा बन रहे हैं।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!