March 18, 2019
Breaking News

Sign in

Sign up

  • Home
  • Interview
  • Social Workers
  • राहुल गांधी और निर्मला सीतरमण ने एक दूसरे से मांगा इस्तीफा।

राहुल गांधी और निर्मला सीतरमण ने एक दूसरे से मांगा इस्तीफा।

By on January 7, 2019 0 54 Views

 

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने हिंदुस्तान एयरोनाॅटिक्स लिमिटेड (एचएएल) को एक लाख करोड रूपये का सरकारी आॅर्डर देने के मामले में रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण पर संसद में ‘झूठ’ बोलने का आरोप लगाते हुए रविवार को कहा कि वह सदन में अपन बयान के समर्थन में या तो दस्तावेज पेश करे या इस्तीफा दें।
राहुल गांधी पर पलटवार हरते हुए सीतारमण ने कहा, यह शर्म की बात है कि आईएनसी इंडिया के अध्यक्ष झूठ फैला रहे है। और देश को गुमराह कर रहे हैं। उन्होंने आगे कहा कि एचएएल ने 26570.8 करोड़ (2014 से 2018 के बीच) के अनुबंधों पर हस्ताक्षर किए हैं जबकि 73000 करोड़ का अनुबंध पाइपलाइन में है। क्या झूठ फैलाने के आरोप में राहुल गांधी देश और सांसद से माफी मांगेंगे और इस्तीफा देंगे?

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने हिंदुस्तान एयरोनाॅटिक्स लिमिटेड (एचएएल) को एक लाख करोड़ रूपये का सरकारी आॅर्डर देने के मामले में रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण पर संसद में ‘झूठ’ बोलने का आरोप लगाते हुए रविवार को कहा कि वह सदन में अपने बयान के समर्थन में या तो दस्तावेज पेश करें या इस्तीफा दें। गांधी ने सरकार पर निशाना तब साधा है जब एक मीडिया रिपोर्ट में दावा किया गया है कि एचएएल के पास एक लाख करोड़ रूपये में से एक भी रूपया नहीं आया है। दावे के विपरीत अब तक एक भी आॅर्डर पर हस्ताक्षर नहीं किए गए हैं।

मीडिया रिपोर्ट में अपने दावे के समर्थन में एचएएल प्रबंधन के वरिष्ठ अधिकारी को उद्धृत किया गया है। गांधी की टिप्पणी पर पलटवार करते हुए रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि जिस रिपोर्ट का आप हवाला दे रहे हैं उसे पूरा पढ़ें। रक्षा मंत्री ने ट्विटर पर उस मीडिया रिपोेर्ट का हवाला दिया जिसमें कहा गया है कि उन्होंने संसद में यह नहीं कहा है कि एचएएल को दिए गए आॅर्डर पर हस्ताक्षर हो गए हैं। रिपोर्ट के साथ ट्वीट किया, बहरहाल, लोकसभा का रिकाॅर्ड दिखाता है कि सीतारमण ने यह दावा नहीं किया कि आॅर्डर पर हस्ताक्षर हो गए हैं और कहा कि उनपर काम चल रहा है।

सीतारमण का जवाब कांग्रेस अध्यक्ष के उस हमले के बाद आया कि जिसमें उन्होंने कहा था, जब आप झूठ बोलते हैं, तो उसके समर्थन में आपको और झूठ बोलने पड़ते हैं। राफेल पर प्रधानमंत्री का झूठ का बचाव करने के लिए रक्षा मंत्री संसद में एचएएल को एक लाख करोड़ रूपये का आॅर्डर देने का दस्तावेज पेश करें या इस्तीफा दें। सीतारमण के दफ्तर ने बाद में ट्वीट किया, प्रिय श्री राहुल गांधी, ऐसा लगता है कि आपको ए बी सी… से शुरू करने की वास्तव में जरूरत है। आपके जैसे लोग जिनपर जनता को गुमराह करने का भूत सवार है, वह लेख को पढ़े बिना ही उससे उद्धृत कर देते हैं।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!