December 14, 2018
Breaking News

Sign in

Sign up

  • Home
  • News
  • Photo
  • जालोर में सोनोग्राफी सेंटर पर छापा…?

जालोर में सोनोग्राफी सेंटर पर छापा…?

By on August 10, 2018 0 52 Views

 

डॉक्टर और संचालक गिरिफ्तार

अवैध रूप से सोनोग्राफी सेंटरों पर सोनोग्राफी का काला कारोबार आज भी जारी है तभी तो राजस्थान के जालोर में बीतीरात एक ओर सफल डिकोय ऑपरेशन को सफलता से अंजाम दिया राज्य पीसीपीएनडीटी दल ने ।
जालोर में कुछ समय से मिल रही शिकायतो के बाद रात के अंधेरे में फर्जी तरीके से संचालित ओर ऑपरेट हो रहे सेंटर पर एक सफल डिकोय कार्यवाही में फर्जी तरीके से भीनमाल में लाइफ लाइन हॉस्पिटल में अक्रिर्यशील सोनोग्राफी सेंटर पर कार्यवाही करते हुए अवेध रूप से सोनोग्राफी करते डॉक्टर गंगाराम प्रजापति व अस्पताल संचालक मुकेश बाफना को गिरफ्तार किया। 
इस ऑपरेशन के दौरान दोनों की गिरफ़तारी के साथ ही सोनोग्राफी के काम में ली गयी रजिस्टर्ड सोनोग्राफी मशीन को भी जब्त कर लिया गया है।जालोर के भीनमाल में डिकोय ऑपरेशन की कार्यवाही की सूचना से निजि अस्पताल संचालको मे हडकंप मच गया। पीसीपीएनडीटी अधिनियम के प्रावधानों के अनुसार रजिस्टर्ड सोनोग्राफी सेंटर पर रजिस्टर्ड सोनोलाजिस्ट या चिकित्सक ही सोनोग्राफी कर सकता है। इसके अतिरिक्त किसी तरह की सोनोग्राफी कानूनन अपराध है।पिछले कई दिनों से भीनमाल में लाइफ लाइन हॉस्पिटल में गर्भवती महिलाओं की अनाधिकृत व्यक्ति द्वारा सोनोग्राफी करने की सूचना मिल रही थी। जिसकी शिकायतो पर पुष्टि के बाद डिकाय दल तैयार किया गया। दल ने डिकाय गर्भवती महिला को सेंटर पर ले जाकर सेंटर पर सोनोग्राफी करवाई ओर वही सेंटर पर संचालक की सहमति से डॉ गंगाराम प्रजापति ने डिकाय महिला की सोनोग्राफी की। इशारा मिलते ही टीम ने गंगाराम प्रजापति व मुकेश बाफना को पीसीपीएनडीटी अधिनियम के प्रावधानों के तहत अनाधिकृत सोनोग्राफी के आरोप में गिरफ्तार कर काम में ली गयी सोनोग्राफी मशीन जब्त कर ली है।
यह सारी कार्यवाही दल के प्रभारी शंकर सुथार पीसीपीएनडीटी सेल के निर्देशन में कई गई ।
Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!