March 20, 2019
Breaking News

Sign in

Sign up

  • Home
  • Uncategorized
  • तमिलनाडु : गाजा के कहर से 23 लोगों की मौत, 81 हजार राहत शिविरों में

तमिलनाडु : गाजा के कहर से 23 लोगों की मौत, 81 हजार राहत शिविरों में

By on November 17, 2018 0 100 Views

 

चक्रवाती तुफान गाजा गुरूवार देर रात तमिलनाडु के नागपट्टनम और वेदरन्न्ाियम तट से टकराया। इस दौरान तुफानी हवाओं की रफ्तार 120 किलोमीटर प्रति घंटा रही। गाजा के असर से कई जिलों में भारी बारिश हो रही है। मुख्यमंत्री पलानीसामी ने बताया कि हादसों में 23 लोगों की मौत हुई है। आपदा प्रबंधन विभाग ने 81 हजार लोगों को तटीय इलाकों से हटाकर 471 राहत शिविरों में भेजा है। मौसम विभाग ने शुक्रवार शाम तक तुफान के कमजोर पड़ने का अनुमान जताया है।
तेज हवाओं और बारिश की वजह से बिजली के खंभे और पेड़ उखड़ गए। कई इलाकों में बिजली आपूर्ति पूरी तरह से ठप हो गई। तटीय इलाकों के घरों को भी नुकसान पहुंचा है। प्रशासन ने मदद के लिए एनडीआरएफ की नौ टीमें प्रभावित इलाके में तैनात की हैं। गुरूवार-शुक्रवार को एहतियातन सभी स्कूलों में छुट्टी घोषित कर दी गई। मौसम विभाग के मुताबिक, तमिलनाडु के तटीय शहरों-कोड्डालरू, नागपट्टनम, थोंडी, पंबान औ पुड्डूचेरी के कराईकल में सुबह तक आठ सेंटीमीटर तक बारिश हुई। तूतिकोरिन और रामनाथपुरम में भी भारी बारिश हो रही है। तिरूवरूर जिले के कई शहरों में पेड़ और बिजली के खंभे गिर गए। नागपट्टनम और कराईकल जिले में भी सड़क पर पेड़ गिरने से यातायात बाधित हुआ। पुड्डकोट्टाई जिलें में एक मकान ढहने से चार युवकों की मौत हो गई, तीन महिलाएं जख्मी हुई। तंजावुर में 10 और तिरूवरूर में 4, पुड्डुकोटाई में तीन, त्रिची में दो नागपट्टनम, कुड्डालोर और तिरूवानामलाई में एक-एक लोगों की जान गई। राज्य सरकार ने मृतकों के परिवार को 10-10 लाख की मदद देने का ऐलान किया। तूफान से हुए नुकसान की जानकारी जुटाई जा रही है। मौसम विभाग ने गुरूवार को कहा था कि गाजा चक्रवात 14 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से आगे बढ़ा। तमिलनाडु, दक्षिणी आंध्र और पुड्डुचेरी तट पर ऊंची लहरें उठने की आशंका है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!