March 20, 2019
Breaking News

Sign in

Sign up

  • Home
  • Tonk Special
  • गौरव यात्रा के अंतर्गत टोंक आई सीएम राजे

गौरव यात्रा के अंतर्गत टोंक आई सीएम राजे

By on September 28, 2018 0 558 Views

 

 

टोंक (राजस्थान)

सरकार बनने के बाद पहली बार टोंक आयी मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे

नहीं मिली टोंक को रेल की सौगात

 

न गौरव यात्रा के तहत मुख्यमंत्री वसंुधरा राजे ने आज टोंक जिला मुख्यालय पर जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि प्रदेष को बिमारू राज्य से निकालकर सम्पन्न राज्य बनाना ही उनका मुख्य लक्ष्य हैं। इसके लिऐ उन्होने अपने इस कार्यकाल में आमजन के लिए जनकल्याणकारी योजनाए चलाकर महत्वपूर्ण प्रयास किए हैं। वही आजादी के बाद से चली आ रही रेल की उम्मीदों पर एक बार फिर से यह कहते हुए मुख्यमंत्री ने पानी फेर दिया कि रेल का काम सेंट्रल का है, सभा के दौरान रेल संघर्ष समिति के अकबर खान ने जब यह आवाज बुलंद की तो यह था मंच से मुख्यमंत्री का जवाब की यह मामला सेंट्रल का है।

राज्य की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे आज राजस्थान गौरवयात्रा के तहत टोंक जिला मुख्यालय पहुंची जहां खेल स्टेडियम में आयोजित जनसभा में उन्होने टोंक विधानसभा क्षेत्र के षहरी एवं ग्रामीण अंचलों से भारी संख्या में आई जनता को पिछले चार साल की अपनी उपलब्धियों को गिनाते हुए कहा कि केंद्र सरकार के सहयोग से राजस्थान की कई नदियों को जोडने को काम किया जा रहा हैं, 37 हजार करोड की लागत से चंबल, बनास, गंभीरी, पार्वति आदि नदियो से जुडे राज्य के 13 जिलों को जोडा जाएगा, जिससे इन जिलों मंें पेयजल सहित सिंचाई के पानी की समस्या खत्म हो पाएगी। उन्होने टोंक की आवाम को इस बहुउद्देष्यीय योजना की जानकारी देते हुय कहा केंद्र सरकार की ओर इसको लेकर हरी झंडी मिल गई हैं, और जल्द ही इसको लेकर काम षुरू हो पाएगा। उन्होने गौरवयात्रा पर सवाल उठाने वालों विरोधियों को जवाब देते हुए कहा कि जहा-जहां गौरवयात्रा लेकर वह गई हैं वहां उन्हे प्रदेष की जनता का समर्थन मिला हैं, 30 लाख किसानों को 50 हजार तक को कर्जा माफ किया गया है जों राज्य में पहली बार किसी सरकार द्वारा उठाया गया ऐतिहासिक कदम हैं
राजस्थान की मुख्यमंत्री आज राजस्थान गौरव यात्रा पर जब टोंक पहुची तो टोंक की जनता को रेल पर आधी राशि राजस्थान सरकार देने की घोषणा की उम्मीद थी,यही नही रास्ते मे रेल संघर्ष समिति ने अकबर खान के नेतृत्व में सेकड़ो महिलाओ ने वसुंधरा राजे का गाड़ी से उतारकर स्वागत किया और रेल को लेकर ज्ञापन भी सोपा पर मंच पर से वसुंधरा के भाषण में रेल ही नही टोंक के लिए किसी भी नई घोषणा का जब जिक्र तक नही हुआ तो एक बार फिर भीड़ से उठकर रेल की लिए जनता की आवाज बने अकबर खान की मांग पर वसुंधरा ने कर दिया इनकार ओर लग गया टोंक में रेल पर विराम जब कि 2013 ओर 2014 में बीजेपी ने रेल पर खूब की थी राजनीति।  
गौरवयात्रा के दौरान मुख्यमंत्री में विपक्षी पार्टी के नेताओं को आडे हाथों लेकर कहा कि विपक्षी पार्टी के नेता चुनावी समय में ही क्यू सक्रिय नजर आ रहे हैं इससे पूर्व चार साल पहले तक वह कहा थे, उन्होने कांग्रेस के राश्ट्रीय नेता और पूर्व मुख्यमंत्री अषोक गहलोत पर सीधा हमला करते हुए कहा कि अपने कार्याकाल में तो उन्होने जनता की समस्याए हल नही कर पाए। अब भाजपा की सरकार गरीब जनता के लिए काम कर रही है तो जनता को गुमराह करने के लिए प्रेस के इंटरव्यू देकर सुर्खिया बटोरने में लगे हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि पेट्रोल के दाम बढ़ने पर राज्य की जनता के लिए भाजपा सरकार ने ही ढाई रूपए कम करके आर्थिक नुकसान उठाते हुए भी आमजन का भला किया हैं।
मुख्यमंत्री 2013 में चुनाव जीतने के बाद पहली बार टोंक पहुची थी ऐसे में जनता की उम्मीद बहुत थी पर मुख्यमंत्री ने ईसरदा बांध,आमली प्रोजेक्ट,बीसलपुर कंजर्वेशन जैसी बजट घोषणाओं तक पर एक शब्द नही बोला और पूरे समय वह मंच से लाभार्थियों ओर सड़को का बखान करती नजर आयी वह रही सही कसर मुख्यमंत्री रेल पर मुख्यमंत्री के इंकार ने पूरी कर दी अब देखना यह होगा कि बीजेपी के विधायक और सांसद रेल के मुद्दे पर जनता को आखिर क्या मुंह दिखाएंगे ।
Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!