January 18, 2019
Breaking News

Sign in

Sign up

  • Home
  • News
  • Photo
  • यूपीएससी छात्र असफल होने पर अनिद्रा व तनाव का हुआ शिकार 

यूपीएससी छात्र असफल होने पर अनिद्रा व तनाव का हुआ शिकार 

By on October 3, 2018 0 32 Views

सुनाई देती थी अजीब आवाजें- कत्ल करो-बलात्कार करो, कर दी गार्ड की हत्या

मंगलवार रात सफदरजंग इलाके में हुई थी गार्ड की हत्या
दिल्ली में युपीएससी (सीविल सर्विस) की तैयारी कर रहा मणिपुर का छात्र गिरफ्तार
नई दिल्ली. सफदरजंग एन्क्लेव में तीन दिन पहले गार्ड की हत्या के आरोप में गिरफ्तार युवक के दोस्तों ने चैंकाने वाले खुलासे किए। उनका दावा है कि आरोपी बेंजी सिंह (25) सिविल सर्विसेज परीक्षा में सफल नहीं होने पर कई दिनों से सोया नहीं था। उसे रात को किसी की आवाज सुनाई देती थी, जो कहता था कि लोगों को मारो और बलात्कार करो। दिल्ली पुलिस के मुताबिक, बेंजी तनाव और अनिद्रा का शिकार है। पुलिस जांच कर रही है। डीसीपी (साउथ दिल्ली) विजय कुमार के मुताबिक, आरोपी से पूछताछ करने पर मणिपुर निवासी बेंजी सिंह ने अपना जुर्म कबूल कर लिया है। उसने बताया कि मंगलवार रात वह पेपर कटर लेकर फ्लैट से निकला था। उसका इरादा ऑटो चालक को मारना था, जिससे कुछ दिन पहले उसका झगड़ा हुआ था। लेकिन गलती से ऑटो में आराम कर रहे गार्ड राम बहादुर खत्री (65) को आॅटों चालक समझा कर उसका का गला तेज धारदार कटर से रेत दिया। जिससे उसकी मौके पर मौत हो गई। बेंजी सफदरजंग एन्क्लेव के एक फ्लैट में दोस्तों के साथ रहता है।

दोस्तों ने बताया…

एक दोस्त ने बताया कि 15 दिन पहले रात करीब चार बजे बेंजी ने कहा था कि कोई उससे बात कर रहा था। जिसने अजीबोगरीब आवाज में उससे कहा कि लोगों को मारो और दुष्कर्म करो। अगली सुबह उसे एक मनोचिकित्सक के पास ले गए। दूसरे दोस्त ने बताया कि उन्हें अगली सुबह 11 बजे पड़ोसी के जरिए मर्डर के बारे में पता चला। तब बेंजी ने कहा कि वह इस केस को सुलझा सकता है। एक घंटे बाद पुलिस कमरे पर आई और बेंजी को गिरफ्तार कर लिया। उसके मोबाइल में मर्डर करने के 15 प्वाइंट मिले थे।
क्राइम की कहानियां पढ़ने का शौकिन था बैंजी
दोस्तों के मुताबिक, बेंजी सिविल सर्विसेज (यूपीएससी) परीक्षा के लिए काफी मेहनत कर रहा था, लेकिन सफल नहीं हो पाया। वह जासूसी और क्राइम की कहानियां पढ़ने का शौकीन था। कुछ दिन पहले उसने पेपर कटर और पेन कैमरा भी ऑर्डर किया था।
Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!