January 19, 2019
Breaking News

Sign in

Sign up

  • Home
  • Traveling
  • Wildlife
  • अफीम कि खेती के लिए किसानो को दिए जाऐगें पट्टे।

अफीम कि खेती के लिए किसानो को दिए जाऐगें पट्टे।

By on October 30, 2018 0 92 Views

 

काले सोने के नाम से विख्यात अफीम की खेती को लेकर भीलवाडा जिला अफीम कार्यालय ने कास्तकारों को नयी नीति के तहत पट्टे वितरण करना शुरू कर दिया है। जिसमें भीलवाड़ा की 4 और चित्तौडगढ जिले की 2 तहसीलों के किसानों को पट्टा वितरण किया जा रहा है। यह पट्टा वितरण कार्यक्रम 31 अक्टुबर तक जारी रहेगा। वहीं किसान पर पुरानी अफीम नीति के चलते जो तलवार लटकी हुई थी वो नयी नीति के आने से हट गयी है। जिसके कारण किसानों के चेहरों पर खुशी की लहर है। अफीम पट्टा लेने आये किसानों ने कहा कि हमारे पट्टे पूर्व में कम अफीम तोल और मार्फिन की कमी के कारण कट गये थे। जिसके कारण हम पिछले कई वर्षों से अफीम की खेती नही कर पा रही थे। अब जो सरकार ने नयी नीति निकाली है उससे हमें भी पट्टे मिल गये है। इसके कारण इस बार हम भी खेती कर पायेगें और इस कदम के लिए सरकार को हम धन्यवाद देते हैं। जिला अफीम अधिकारी एस.के.सिंह ने कहा कि पट्टा वितरण के प्रथम चरण में हमने 10 अक्टुबर से 18 अक्टुबर तक 4 हजार 6 सौ 69 पट्टों का वितरण किया। अब हम सरकार द्वारा जारी नयी नीति के तहत किसानों को पट्टे वितरण कर रहे है। जिसमें ऐसे किसान शामिल है जो पूर्व में किसी कारणवश निरस्त हो चूके थे। हम 31 अक्टुबर तक करीब 500 से 600 सौ किसानों को पट्टे वितरण का लक्ष्य रखा है। एस.के.सिंह ने यह भी कहा कि सरकार ने इस बार किसानों को राहत प्रदान की है और ऐसे किसानों को भी पट्टे दिये जा रहे है। जिन पर पूर्व में एनडीपीएस का मामला चला हो और उन्हे कॉर्ट द्वारा बरी कर दिया गया हो। गौरतलब है कि अफीम की खेती राजस्थान के ज्यादातर क्षेत्र में कि जाती रही है जो कि कुछ समय से बंद कि गई थी। लेकिन एक बार फिर नयी नीति के अनुसार अफीम की खेती की जाएगी इस सुचना से किसानों में भी खुशी का माहौल है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!