January 19, 2019
Breaking News

Sign in

Sign up

  • Home
  • News
  • Photo
  • नारी स्वाभिमान जागरूकता रेली इन टोंक

नारी स्वाभिमान जागरूकता रेली इन टोंक

By on September 18, 2018 0 201 Views

नीलिमा सिंह आमेरा बनती संघर्ष का प्रयाय
क्या राजनीती मे आयेगी नीलीमा आमेरा….?
टोंक मे महिलाओ के अधिकारो के प्रति संघर्ष का प्रतिक बनती नीलिमा आमेरा के नैत्तृव मे आज मृात छाया संस्थान के बैनर तले नारी स्वाभिमान बचाओ रेली मे महिलाओ ने अपने हक के लिये अपनी आवाज बुलन्द करते हुऐ दुपहिया ओर आटो रिक्शा रैली

का आयोजन किया जिसमे महिलाये सिर पर केसरिया ओर पचरंगी पगडिया बांधकर निकली ओर नारी तेरा अपमान नही सहेगा हिन्दुस्तान जैसे नारो की गुंज टोंक में सुनाई दी।


मृातछाया संस्थान के आवहान पर आज टोंक मे नारी शक्ति की आवाज

 बुलन्द करने के लिये ओर महिलाओ पर बडते अत्याचारो के खिलाफ सरकार के कानो तक अपनी आवाज पहुचाने के उद्वेष्य को लेकर टोंक मे मंशापूर्ण महादेव मन्दिर से लेकर धंटाधर तक नारी शक्ति स्वाभिमान बचाओ अभियान के तहत रेली का आयोजन किया गया जिसमे संस्थान कि अध्यक्ष नीलिमा आमेरा के नेत्तृव मे महिलाओ ने दुपहिया वाहनो ओर आटो रिक्शाओं मे संवार होकर अपनी आवाज सरकार के कानो तक पंहुचाने कि पहल कि की आखीर कब तक नारी पर अत्याचार होते रहेगे ओर सरकारे हाथ पर हाथ धरकर बेठी रहेगी,रेली के बाद नारी शक्ति ने जिला कलेक्टर को प्रधानमंत्री के नाम ज्ञापन दिया ओर दुष्कर्म जैसे मामलो मे जल्द से जल्द सख्त होते हुऐ फांसी दिलवाने जैसी मांग रखी है ।

आज टोंक में नीलिमा आमेरा किसी परिचय कि मोहताज नही हे ओर शिक्षिका से लेकर समाज सेविका ओर महिलाओ पर बडते अत्याचारो के मामले मे वह पिछले कई सालो से हमेशा पीडीताओ के साथ खडी नजर आती हे ओर आने वाले समय मे नीलिमा सिंह आमेरा राजनेतिक पटल पर दस्तक दे सकती हे जिसकी अपार सम्भावनाये नजर आ रही हे ऐसे मे टोंक कि राजनीति मे कई दिग्गजो कि नींद वह उडा सकती हे क्यो कि वह वर्तमान मे संघर्ष का प्रयाय हे ओर नारी शक्ति ही उनकी ताकत हे जो कि आज किसी भी सुरत मे किसी से कम नही हे, ऐसे मे उनकी बडती सक्रियता साफ संकेत हे कि सम्भवतया वह आने वाले विधानसभा चुनावो मे नारी षक्ति का चैहरा हो ओर टोंक कि राजनीती मे एक नये युग कि शुरूआत करे क्यो कि आजादी के बाद से आज तक विकास को तरसते टोंक शहर को अब तक जनता के साथ कदम से कदम मिलाकर चलने वाले नेता कि तलाश अब तक भी है ओर आज भी जिला मुख्यालय के हालात देखकर कहा जा सकता हे कि टोंक शहर के हालात बद से बदतर हे ओर सारे महकमे भर्ष्टाचार  कि जद मे जकडे है तो जनप्रतिनिधीयो के मुंह भी सिले नजर आते हे,ऐसी सुरत मे आने वाले विधानसभा चुनावो मे जनता बदलाव कि ओर जायेगी इसमे अब को संशय अब बचा भी नही हे ।


आज टोंक मे आयोजित नारी स्वाभिमान बचाओ रेली मे जंहा सभी वर्ग कि महिलाओ के साथ पुरुष भी नजर आये तो इस रैली मे सोहार्द का भी संदेश दिया कि किसी भी नेक काम कि जब शुरूआत हाती हे तो समाज का हर महकमा ओर वर्ग स्वत ही आ जाता है ओर नीलिमा आमेरा कि नारी

शक्ति स्वाभीमान रेली ने इस बात को साबित भी किया,अब देखना यह होगा कि उनका समाज सेवा का यह सफर राजनीती के गलियारो तक कब पुहचता है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!